टोपी की कहानी

एक लडका था जिसका नाम टोपी था जो उमरेठ तहसील मे रहता था एक बार की बात है टोपी कह रहा था  कि उसके गांव मे खजाना एक खेत के पास पुंरानी खण्‍डहर मे दबा है तो हम सभी मित्र उस खजाने को खोजने जाने वाले थे पर टोपी जाने से डर रहा था और फिर हम नही जा स‍के क्‍योकि टोपी ने जाने  से मना कर दिया ? क्‍यो किया ये तो उसे ही पता है  वह  कह रहा था कि वहा भूतो का साया है ?  यह सुनकर हम भी वहा नही गये ?  क्‍या आप जाना चाहते है ? यदि हॅा तो कृपया कमेन्‍ट करे ।